Blogging

Blogging

Free blog or website kaise banae 

 वेबसाइट कैसे बनाएं? ब्लॉग कैसे बनाएं? अगर आप इंटरनेट से पैसे कमाने के बारे में सुना होगा क्या जानते होंगे तो आपको जरूर पता होगा कि आप एक ब्लॉग या वेबसाइट के जरिए आसानी से घर बैठे पैसे कमा सकते हैं आज की दुनिया का सबसे अनोखा अविष्कार है इंटरनेट  online word का सबसे बड़ा पॉपुलर चीज है Website or blogs आपको कोई भी चीज की जानकारी चाहिए होता है या फिर कोई Probleme का Solution चाहिए होता है तो आप बिना सोचे Google में सर्च कर लेते हैं वहां आपको बहुत सारे Solution मिलता है एक तरह से आप यह भी कह सकते हैं के इंटरनेट से बड़ा Knowledge source और कुछ नहीं है

पर आपने कभी यह सोचा है कि हमें Google पर Search करने से जो Solution या Knowledge मिलता है वह आखिर आता कहां से है क्या Google आप के लिए यह सलूशन लिखता है नहीं यह सब जानकारी आपको अलग-अलग बेस्ट साइट्स और ब्लॉग्स देते हैं Google का काम बस इतना है कि वह उन Website/ blog के लिंक को अपने Database में स्टोर करता है और Search result में दिखाता है

वेबसाइट क्या है?

वेबसाइट कैसे बनाते हैं जानने से पहले यह जानना जरूरी है कि Website क्या है? एक Website और एक लॉक में क्या अंतर है? जब हम एक Website के बारे में बात करते हैं तो एक कंपनी का ध्यान में आता है जिसका बस एक ही काम होता है

Facebook जो की एक कंपनी है और  वर्ल्ड का सबसे बड़ा Social networking Website भी इसका काम बस यह है कि आप इसके जरिए अपने दोस्तों से फैमिली से ऑनलाइन चैट कर सकते हैं और अपनी Photos और वीडियो शेयर कर सकते हैं उसी तरह Google भी एक Website है जो लोगों की Search का Result देखना है

  फ्री वेबसाइट कैसे बनाएं

एक Website बनाने के लिए बहुत सारी चीजों की जरूरत पड़ता है और सबसे पहला है पैसे (Money) फिर Hosting और आखिरी में Web programming जैसे (HTML, CSS, javascript, PHP, .Net) आदि का जानकारी होना जरूरी है अगर आपके पास पैसे हैं तो आप एक Web developer को यह काम दे सकते हैं आपकी जरूरतों के हिसाब से वह आपका Web design कर देगा पर एक बात याद रखिए इसके लिए आपको बहुत सारे Money invest करना पड़ेगा

what is SEO in Hindi SEO kya hai

SDM kya hai

अगर आप यह जानना चाहते हैं क्या अपने नाम की Website कैसे बनाएं तो आप वह भी आसानी से बना सकते हैं ऐसे कुछ Website हैं जो आपको एक Online platform प्रदान करते हैं जिसके जरिए आप बिना कोडिंग को छुए आसानी से अपना Website बना सकते हैं

मैंने नीचे कुछ Website का नाम दिया है जहां आप रजिस्टर करके उसका Website builder उसे करके उस अपना Website बना सकते हैं अगर आपको अधिक जानकारी चाहिए तो आप मुझे  पूछ सकते हैं और एक पोस्ट में इसके बारे में पूरी जानकारी दे दूंगा

Blog क्या है?

Blog का Concept Website से पूरा अलग होता है Blog Ek Knowledge का जरिया होता है मान लीजिए आपका एक कंपनी है जिसमें आप कुछ Products बनाते हैं आपने उसके लिए एक Website भी बना लिया पर आप के Products के बारे में बाहरी दुनिया में प्रमोट करने में Blog मदद करता है

उन Products के डिटेल आप Blog के जरिए शेयर करते हैं इसलिए Blogging इतना पॉपुलर है आप जब गूगल में किसी चीज के जानकारी के लिए सर्च करते हैं तो ज्यादातर रिजल्ट Blog का ही आता है तो आपने Basic चीज समझ ही गया होगा कि Blog क्या है|

फ्री ब्लॉग कैसे बनाएं

Free blog वह होता है जिसमें आपको एक भी पैसा खर्च करना नहीं पड़ता आपको अगर ब्लॉगिंग सीखना है तो पहले आपको फ्री से शुरू करना चाहिए जब आप अच्छे से उसका Concept समझ जाओ कि वह काम कैसे करता है, फिर आप उस में Invest कर सकते हैं

Free blog बनाने के लिए दो पॉपुलर प्लेटफार्म है ब्लॉगर और वर्ल्ड प्रेस मैंने आपको पिछले पोस्ट में डिटेल में बता दिया था के Blogger vs wordpress में क्या अच्छा है और क्या बुरा तो हम आज जानेंगे के Free blog कैसे बनाते हैं

Blogger में Free blog कैसे बनाएं?

मैंने आपको पिछले पोस्ट में बता दिया था कि Blogger (Blog post) google का प्रोडक्ट है तो उसमें अकाउंट बनाने की कोई जरूरत नहीं है अगर आपका एक Gmail account है तो आप उसके जरिए उसे access कर सकते हैं तो चलिए शुरू करते हैं

1) Apni कंप्यूटर में कोई सभी Web browser खोलिए और www.blogger.com ya www.blogpost.com me jaiye

2) यहां आप अपनी Gmail IDऔर Password देकर लॉगिन करें अगर आप पहले से गूगल में लॉगिन है तो शायद यह Apko लॉगइन के लिए ना पूछे

3) लॉग इन करने के बाद वहां आपको लेफ्ट साइड में “New blog” के नाम से एक बटन मिलेगा यहां क्लिक करिए

4) Apki Browser का नया Popup window खुलेगा जहां आपको आपकी नई Blog की डिटेल डालना hai

Title:यहां पर ब्लॉक का नाम लिखना है

Address: जहां आपको एक Unique name देना है जो पहले किसी ने ना दिया हो अगर अपना नाम यूनिक है तो आपको बता देगा कि “This blog address is available “एक बढ़िया नाम के लिए best domain name selection kaise karen

 template: यह आपकी Blog या डिजाइन होता है मतलब आपका Blog कैसे दिखेगा आप इसको बाद में भी चेंज कर सकते हैं

5) सब Fill-up आप करने के बाद “Create Blog” बटन पर क्लिक करिए 

अब आपका ब्लॉग रेडी हो गया है Address field में आपने जो भी नाम दिया होगा वह आपकी ब्लॉक का एड्रेस है जैसे हिंदी में ब्लॉग पोस्ट डॉट कॉम फ्री ब्लॉग हमेशा एक सब्डोमेन के साथ आता है और वह है blogspot.com देखें ब्लॉग बनाना बहुत ही आसान है

WordPress में Free blog/ Website कैसे बनाएं?

बनाना ब्लॉगर के जितना ही आसान है तो चलिए शुरू करते हैं

1) अपनी कंप्यूटर में wordpress.com के वेबसाइट पर जाइए

2) वहां आपको दो Option मिलेंगे एक है वेबसाइट के लिए और दूसरा है blog के लिए दोनों में कुछ फर्क नहीं है बस आपको वेबसाइट और blog के हिसाब से अलग-अलग टीम सेलेक्ट करने का मौका देता है आपको सभी ऑप्शन सेलेक्ट करिए

3) मैंने “blog” Select किया और नेक्स्ट पेज में यह आपको आपकी ब्लॉक का कैटेगरी पूछता है मैंने यहां “Writing & Books” सिलेक्ट किया

4) Next page में आपकी Category का सब कैटेगरी दिखाएंगे आप कोई सा भी सेलेक्ट कर लीजिए

5) फिर आपको एक टीम सिलेक्ट करना होगा जो आपकी ब्लॉक का डिजाइन होगा

6) Next page मैं आपको आपके वर्डप्रेस ब्लॉग के लिए Ek domain सिलेक्ट करना होगा जोकि यूनिक हो फिर आपको फ्री के ऑप्शन में क्लिक करना होगा

7) Plans page में Free का Option Select करिए

8) अब आपको अपनी अकाउंट क्रिएट करना है यहां बस आपको अपनी ईमेल आईडी और पासवर्ड डालकर “Create my account” बटन पर क्लिक करना ह

अब आपकी वर्डप्रेस ब्लॉग तैयार है अब आपको एक बार आपकी ईमेल अकाउंट खोलकर वर्डप्रेस का ईमेल वेरीफाई करना है आपकी वेबसाइट  ब्लॉक wordpress extension के साथ आता है आपको जब भी अपने अकाउंट में लॉगिन करना हो तो आप wordpress.com के जरिए कर सकते है

Par isme yah दिक्कत है के आप usko अपने मन मुताबिक Customize नहीं कर सकते उसके लिए आपको self-hosted वर्डप्रेस इस्तेमाल करना होगा उसके लिए आपको एक डोमेन और होस्टिंग की जरूरत पड़ेगा एक बार आप दोनों खरीद ले तो आप यहां क्लिक करके वर्डप्रेस इंस्टॉल करने की प्रक्रिया जान पाएंगे आप इंटरनेट पर जितने सारे बड़े ब्लॉग पर न्यूज साइट्स देख रहे हैं लगभग सारे इसी प्लेटफार्म पर बनाए जाते हैं अगर आप बस इसे चलाना सीखना चाहते हैं तो आपके लिए फ्री वाला ठीक है

ब्लॉग और वेबसाइट बनाने की विधि

उम्मीद है कि आपको वेबसाइट पर कैसे बनाएं और ब्लॉक कैसे बनाएं समझ आ गया होगा या बहुत ही आसान है बस आपको कुछ सरल स्टेप्स को फॉलो करने होंगे अगर आपको इसी संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए आप मुझे पूछ सकते हो जितना हो सके मैं हेल्प करने की कोशिश करूंगा अगर आपको यह लेख अच्छा लगा तो उसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और उन्हें भी अपना ब्लॉग बनाने में मदद करें

Web Hosting क्या है और कहां से खरीदें?

आज मैं आपको बताऊंगी  के वैभव स्टिंग क्या है आप अपना खुद का एक Website होना बहुत बड़ी बात है Website को मेंटेन कर पाना सबके बस की बात नहीं इसके लिए प्रॉपर नॉलेज का होना बहुत जरूरी है Website बनाने के लिए बहुत सी चीजों का ध्यान में रखना होता है वैसे आपके Website के लिए डोमेन नेम और होस्टिंग का होना बेहद जरूरी है जिसकी वजह से हमारे Website को पहचान मिलती है

लेकिन जो ब्लॉकिंग के दुनिया में नए हैं उन्हें होस्टिंग का अर्थ के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती और इसी कारण हो उनके जरूरतों के हिसाब से गलत होस्टिंग चुन लेते हैं जिसकी वजह से उन्हें आगे जाकर बहुत सी परेशानियां झेलनी पढ़ती है

इसलिए आज मैं इस लेख में आपको होस्टिंग मीनिंग इन हिंदी के बारे में ही जानकारी दूंगी कि और यह कितने प्रकार के होते हैं ताकि आप अपने Website के लिए सही होस्टिंग चुने सकें

इंटरनेट क्या है

आप सोच रहे होंगे कि मैं इंटरनेट के बारे में क्यों बता रही हूं होस्टिंग सेवा समझने से पहले आपको इंटरनेट क्या है जानना बहुत जरूरी है इंटरनेट है दुनिया का सबसे बड़ा Interconnected Network Interconnected का मतलब है एक दूसरे से जुड़ा हुआ आज की पूरी दुनिया मोबाइल से लेकर कंप्यूटर तक इस बड़ी नेटवर्क से जुड़े हुए हैं

अपने अगर कभी किसी कंप्यूटर लैब में एक दूसरे से जुड़े हुए कंप्यूटर्स को देखा है तो आप उसको भी इंटरनेट का नाम दे सकते हैं जब आपका कंप्यूटर कोई पब्लिक नेटवर्क से जोड़ा जाता है तो वह भी इंटरनेट का एक हिस्सा बन जाता है जिससे आप कब Server या web host भी कह सकते हैं

Domain कैसे खरीदें

तो आप यह सोच रहे होंगे कि अगर आपका कंप्यूटर भी एक सरवर है तो दूसरे लोग इससे क्यों नहीं देख पाते? इसका जवाब यह है कि हर कंप्यूटर मोबाइल में प्राइवेसी और सिक्योरिटी रहता है इसलिए दूसरे से एक्सेस नहीं कर पाते हैं अगर आप ise Security को हटाकर Public access दे देते हैं तो हर कोई आपकी कंप्यूटर में रखे गए कंटेंट्स को देख पाएगा chaliye ab web hosting के बारे में जान लेते हैं

Web hosting क्या है

web hosting सारे वेबसाइट को Internet में जगह देने की सेवा प्रदान करता है इसकी वजह से किसी एक व्यक्ति का Organization के वेबसाइट्स को पूरी दुनिया में Internet के जरिए एक्सेस किया जा सकता है जगह देता है से मेरा मतलब है कि आपके Website के files, images, Videos etc को एक स्पेशल कंप्यूटर पर स्टोर करके रखता है इसी को हम web-server कहते हैं

वह कंप्यूटर हर वक्त 24 * 7 Internet से कनेक्टेड हो कर रहता है वह होस्टिंग की सेवा हमें बहुत सारी कंपनी इज प्रदान करते हैं जैसे गोडैडी होस्टगेटर ब्लूहोस्ट ईटीसी और इनको हम web host भी कहते हैं

एक हिसाब से हम यह भी कह सकते हैं कि आप ने वेबसाइट को दूसरे हाई पावर कंप्यूटर्स वेब सर्विस में स्टोर करके रखने के लिए हम उन्हें किराया देते हैं जैसे हम किसी अनजान के घर में रहने के लिए किराया देते हैं ठीक उसी तरह

वेब होस्टिंग काम कैसे करता है?

जब हम अपना website बनाते हैं तो हम यही चाहते हैं कि हम अपना knowledge और Information लोगों के साथ bant te हैं तो उसके लिए हमें पहले अपने फाइल्स को वेब होस्टिंग पर अपलोड करना पड़ता है

ऐसा कर लेने के बाद जब भी कोई Internet यूजर अपने web browser (Mozilla Firefox, Google, Opera, Chrome) पर आपका domain name टाइप करता है जैसे मान लीजिए

https / / Hindime.net,फिर उसके बाद Internet आपके डोमेन नेम को उस वेब सर्वर से जोड़ देता है  जहां आपके web site का फाइल पहले से ही  स्टोर होकर रखा गया है जोड़ने के बाद वेबसाइट का सारा informationउसी यूजर के कंप्यूटर में पहुंच जाता है फिर वहां से यूज़र अपने जरूरतों के हिसाब से पेज को व्यू करता है और ज्ञान ग्रहण करता है

डोमेन नेम क्या है और कैसे काम करता है

डोमेन नेम को होस्टिंग में जोड़ने के लिए DNS( domain name system) का इस्तेमाल किया जाता है उनको यह पता चलता है कि आपका वेबसाइट  कौन से वेब सर्वर में रखा गया है क्योंकि हर सरवर का DNS अलग-अलग होते हैं

वह पोस्टिंग कहां से खरीदें?

दुनिया में बहुत सारे कंपनी इज है जो बेहतर से बेहतर होस्टिंग प्रोवाइड करते हैं अगर आप चाहते हैं कि आपके सारे विजिटर्स इंडिया से ही हो तो आपको इंडिया से होस्टिंग खरीदना  बेहतर रहेगा  आपकी होस्टिंग का सरवर आपके कंट्री से जितना दूर रहेगा वेबसाइट का एक सच करने में आपको इतना टाइम लगेगा

अगर आप इंडिया के जितने वेब होस्टिंग प्रोवाइडर्स हैं उनसे होस्टिंग खरीदने है तो आपको उसके लिए क्रेडिट कार्ड की जरूरत नहीं पड़ेगी आप अपने एटीएम कार्ड या फिर इंटरनेट बैंकिंग के जरिए खरीद सकते हैं एक बार आप होस्टिंग खरीद लेते हैं तो हम आसानी से उसको आपने डोमेन नेम के साथ जोड़कर एक्सेस कर सकते हैं नीचे आपको कुछ वेबसाइट के नाम मिलेंगे जो कि भरोसे के लायक हैं

और अच्छा सर्विस देते हैं हमारा ब्लॉक होस्टगेटर इंडिया के होस्टिंग में चल रहा है वर्डप्रेस ब्लॉग के लिए वर्डप्रेस कंपनी ब्लूहोस्ट को रिकमेंड करता है आप चाहे तो दूसरे होस्टिंग भी ले सकते हैं

कौन सी कंपनी से होस्टिंग खरीदें?

वेब होस्टिंग खरीदने के लिए आपके पास बहुत सारे ऑप्शन आएंगे पर आपको यह डिसाइड करना पड़ेगा कि आपके जरूरतों के हिसाब से कौन सा कंपनी ठीक रहेगा  होस्टिंग खरीदने से पहले कुछ जानकारियां होना बेहद जरूरी है 

Disk Space

डिस्क स्पेस होता है आपके होस्टिंग का स्टोरेज कैपेसिटी जैसे आपके कंप्यूटर में रहता है 500GB और 1tb स्पेस उसी तरह होस्टिंग में भी स्टोरेज रहता है हो सके तो अनलिमिटेड डिस्क स्पेस वाला होस्टिंग खरीदें इससे आपको कभी डिस्क फुल होने का खतरा नहीं रहेगा

Bandwidth

एक सेकंड में आपकी वेबसाइट के कितने डाटा एक्सेस कर सकते हैं उसे हम बैंडविथ कहते हैं जब कोई आपकी वेबसाइट परचेस कर रहा होता है तो आपकी सरवर कुछ डाटा यूज़ करके उसे इंफॉर्मेशन शेयर करता है अगर आपका बैंडविथ कम है और आपके वेबसाइट से ज्यादा विजिटर एक्सेस कर रहे हैं तो आपकी वेबसाइट डाउन हो जाएगा

 Uptime

आपके वेबसाइट जितने टाइम ऑनलाइन या अवेलेबल रहता है उसे अब टाइम कहते हैं कभी-कभी कुछ प्रॉब्लम्स के कारण आपका वेबसाइट डाउन हो जाता है मतलब खुले नहीं पाता उसे हम डाउन टाइम कहते हैं आजकल हर कंपनी 99.99% अब टाइम के  गारंटी देते हैं

Customer Service

हर होस्टिंग कंपनी कहता है कि वह 24 * 7 कस्टमर सर्विस प्रोवाइड करते हैं पर आखिर में ऐसे नहीं होता मैं जितनी भी होस्टिंग सर्विस उसकी हूं सबसे अच्छा कस्टमर सर्विस होस्टगेटर देता है गोडैडी के कस्टमर सर्विस के लिए आपको फोन पर ही बात करना पड़ेगा जो कि फ्री नहीं है

वेब होस्टिंग के प्रकार

आपने तो जान लिया अभी पोस्टिंग क्या है और कैसे काम करता है अब जानते हैं कि यह कितने तरह के होते हैं वह पोस्टिंग बहुत से प्रकार का होता है लेकिन आज के वक्त में जो सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है हम सिर्फ उन्हीं के बारे में जानेंगे तो मूल रूप से Web hosting 3 प्रकार के होते हैं 1 shared web hosting

2 VPS (virtual private Server)

 3 dedicated hosting

4 cloud web hosting

shared web hosting

जब हम घर से बाहर कहीं पढ़ने जाते हैं यह जॉब के लिए जाते हैं तो हम एक किराए वाले घर में रहते हैं जहां हमारे साथ और भी बहुत से दूसरे लोग एक साथ एक ही रूम शेयर करते हैं ठीक उसी तरह शेयर्ड web hosting भी ऐसा ही काम करता है

Shared web hosting में एक ही सरवर होता है जहां हजारों वेबसाइट्स के फाइल्स एक साथ एक ही सर्वर कंप्यूटर में स्टोर होकर रहता है इसलिए इस होस्टिंग का नाम Shared रखा गया है

Shared web hosting उन लोगों के लिए सही है जिन्होंने अपना वेबसाइट नया नया बनाया हो क्योंकि यह होस्टिंग सबसे सस्ती होती है इस होस्टिंग से आपको तब तक मुसीबत नहीं झेलनी पड़ेगी जब तक आपका वेबसाइट मशहूर ना हो जाए और जब आपके वेबसाइट में विजिटर बढ़ने लगेंगे तो आप अपना होस्टिंग चेंज भी कर सकते हैं जैसा कि यह Shared web server है अगर कोई वेबसाइट बहुत व्यस्त हो जाए तो बाकी सारे वेबसाइट उसके कारण दी में हो जाएंगे और उनके पेज को खुलने में वक्त लग जाएगा यह सुबह पोस्टिंग का सबसे बड़ा demerit high shared hosting ka इस्तेमाल ज्यादातर नए ब्लॉगर्स ही करते हैं इसमें बहुत सारे यूजर्स एक ही सिस्टम का CPU RAM इस्तेमाल करते हैं

Shared web hosting के फायदे

1 यह होस्टिंग का इस्तेमाल और सेट अप करना बहुत ही आसान है

2 बेसिक वेबसाइट्स के लिए यह बढ़िया ऑप्शन है

3 इसकी कीमत बहुत कम होती है इसलिए इसे सभी khareed सकते हैं

4 इसकी कंट्रोल पैनल बहुत ही यूजर फ्रेंडली होती है

Shared hosting के नुकसान

1 इसमें आपको बहुत ही लिमिटेड रिसोर्सेस एक्सेस करने को मिलेगी 

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Read also x